दरभंगा नगर निगम की लापरवाही से अधर में लटकी 9.66 करोड़ की 48 योजनाएं।aazad news

दरभंगा नगर निगम की लापरवाही से अधर में लटकी 9.66 करोड़ की 48 योजनाएं।aazad news

दरभंगा:नगर निगम की लापरवाही से दो वर्ष पहले हुए शिलान्यास के बावजूद क 9.66 करोड़ की 48 योजनाओं का कार्य लटका पड़ा है। नगर विधायक संजय सरावगी ने बताया कि पांच अगस्त 2018 में नगर निगम परिसर में अन्य योजनाओं के साथ 48 योजनाओं का शिलान्यास मुख्यमंत्री गली-नली योजना अंतर्गत नगर विकास मंत्री की ओर से किया गया था। आश्चर्य तो यह है कि दो साल बीत जाने के बावजूद अब तक 22 योजनाओं का एग्रीमेंट भी नहीं किया गया है। नगर निगम में दो साल से राशि भी रखी हुई है। पर, जनता को इसका लाभ नहीं मिल रहा है। इतना ही नहीं जिन 14 योजनाओं का काम प्रारंभ हुआ भी है उसकी प्रगति भी नगण्य है। अधिकांश योजनाओं में 10 से 15 प्रतिशत मात्र काम हो सका है, जबकि यह काम छह महीना में पूरा हो जाना था। यह 48 योजनाएं उन मोहल्लों से जुड़ी हुई है, जिन मोहल्लों की स्थिति आज की तारीख में नारकीय बनी हुई है। अलफगंज, सुन्दरपुर बीरा, बेलादुल्ला, बालूघाट, कबड़ाघाट, रामचौक महादलित टोला, शुभंकरपुर, रतनोपट्टी, बड़ा बाजार, बलभद्रपुर, लक्षमीसागर, चूनाभट्टी, गांधीनगर, जेठियाही, मुफ्तीमोहल्ला, पुरानी मूंशफी, अललपट्टी, बंगालीटोला, छोटी काजीपुरा, मुहल्ला मुल्ला हलीम खां, फकीरा खा, युसूफगंज, रहमगंज, बेता, बेलवागंज, खाजासराय, दुमदुमा, सैदनगर, शाहगंज बेता, लक्षमीपुर व कई मोहल्ले व टोलों की सड़क व नालों की योजनाएं इसमें समाहित है।

इनके क्रियान्वयन से इन मोहल्लों की स्थिति नारकीय नहीं होती है। मुख्यमंत्री नाली गली योजना में सरकार की ओर से दी जानेवाली राशि 18 करोड़ की राशि निगम कोष में रहने के बावजूद किसी भी प्रगतिशील योजनाओं पर ध्यान नहीं देना जनता के प्रति घोर लापरवाही है । उन्होंने इसकी बाबत नगर आयुक्त को पत्र भेजा है। कहा है कि जनहित पर ध्यान दिया जाना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *