बेतिया शहर के नामचीन कपड़ा व्यवसाई के बेटे की अपहरण के बाद निर्मम तरीके से हत्या।

बेतिया शहर के नामचीन कपड़ा व्यवसाई के बेटे की अपहरण के बाद निर्मम तरीके से हत्या।

बेतिया में शहर के एक नामचीन कपड़ा व्यवसायी के बेटे की अपहरण (Kidnapping) के बाद निर्मम तरीक से हत्या (Brutal Murder) कर दी गई. अपहर्ताओं ने पहले युवक की गला रेतकर हत्या की फिर युवक के शरीर पर 50 से अधिक बार चाकू (Stabbed) से वार किया जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई. अपह्रत युवक का शव शहर के सुप्रिया रोड स्थित एक पानी से भरे मैदान से बरामद किया गया हैं. पुलिस ने अभी तक इस मामले में तीन युवकों को गिरफ्तार किया है.

मंगलवार की शाम ही हुआ था अपहरण

हैरत की बात यह है कि अपराधियों ने 17 वर्षीय वजैफ वसीम को कालीबाग ओपी क्षेत्र के कमलनाथ नगर इलाके से सरेशाम जबरन उठा लिया और अपहरण के पांच घंटे के अन्दर ही उसकी हत्या कर शव को फेंक दिया. मृतक युवक के पिता का शहर के बीचोबीच चादर हाउस नाम की प्रसिद्ध दुकान हैं और वह शहर के प्रसिद्ध व्यवसायी हैं. युवक का अपहरण के बाद पुलिस की टीम लगातार शहर के कई मोहल्लो समेत बानूछापर ओपी के बेलवा गांव में देर रात तक छापेमारी करती रही और आखिरकर रात के लगभग एक बजे के आस पास शहर के सुप्रिया रोड से शव को बरामद किया गया.

छापेमारी के दौरान पुलिस को मिली लाश

बताया जा रहा है कि कपड़ा व्यवसायी मो.वसीम के पुत्र का अपहरण शाम को लगभग साढ़े सात से आठ बजे के बीच चार अपराधियों ने कर लिया था जिसके बाद पुलिस हरकत में आई और शहर के कई मोहल्लो में ताबड़तोड़ छापेमारी शुरू की गई. पुलिस टीम ने सबसे पहले उत्तरवारी पोखऱा के पक्की फुलवारी मोहल्ले में छापेमारी शुरी की जहां से पुलिस ने दो युवकों को उठाया जिसके बाद दोनों युवकों को लेकर पुलिस शहर से लगभग दस किलोमीटर दुर बेलवा गांव पहुंची. पुलिस ने गांव में भी छापेमारी की लेकिन पुलिस को अपह्रत युवक का कोई सुराग हाथ नहीं लगा और जब पुलिस टीम वापस लौटी तो शहर के सुप्रिया रोड में पानी से भरे एक मैदान से उसका शव बरामद किया गया.

हत्या का कारण स्पष्ट नहीं

इस घटना के बाद से मृतक के परिजनों के साथ-साथ स्थानीय लोगों में भारी आक्रोश हैं और लोग पुलिस की कार्यशैली पर भी सवाल खड़े कर रहें हैं. पुलिस ने किसी तरह शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया हैं और जिन अपराधियों का नाम इस घटना में आ रहा है उनकी गिरफ्तारी के लिए छापेमारी में जुट गई हैं. इस पूरी घटना के पीछे का कारण अभी स्पष्ट नहीं हो सका हैं.

युवक के दोस्तों और उसके रिश्तेदारों ने बताया है कि उसके साथ पढ़ने वाले लड़कों के साथ उसका कोई विवाद चल रहा था जिसको लेकर इस घटना को अंजाम दिया गया है लेकिन कोई भी पुलिस पदाधिकारी इस मामले में कुछ भी बताने से इन्कार कर रहा है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *