दरभंगा:रूमी सहित क़ई हत्याकांडों में पुलिस की निष्क्रियता को ले इंसाफ मंच का आक्रोशपूर्ण प्रदर्शन ।

दरभंगा:रूमी सहित क़ई हत्याकांडों में पुलिस की निष्क्रियता को ले इंसाफ मंच का आक्रोशपूर्ण प्रदर्शन ।

रूमी सहित क़ई हत्याकांडों में पुलिस की निष्क्रियता को ले इंसाफ मंच का आक्रोशपूर्ण प्रदर्शन ।

प्रदर्शनकारियों को रोकने के लिए समाहरणालय को पुलिस फोर्स से भर दिया।

प्रदर्शनकारियों को कमिशनरी से पहले ही पुलिस ने रोका, प्रदर्शनकारियों की पुलिस से हुई धक्का-मुक्की।

लहेरियासराय, 2 सिंतबर 2020।
रूमी हत्याकांड लहेरियासराय थाना कांड संख्या358/20 के अभियुक्त डॉक्टर को गिरफ्तार करने, पीड़ित परिवार पर हुए झूठा मुक़दमा लहेरियासराय थाना कांड संख्या 357/20 वापस लेने, पंचायत समिति सदस्य मो कैशर हत्याकांड सदर थाना कांड संख्या 312/20 के अभियुक्तों की गिरफ्तारी करने, सिहवाड़ा थाना कांड संख्या 95/20, मो नाज़िम हत्याकांड के साजिशकर्ता की गिरफ्तारी, मुखिया रियाजुद्दीन हत्याकांड मनीगाछी थाना कांड संख्या 135/20 के साजिशकर्ता की गिरफ्तारी, आंदोलकारियों पर हुये झूठा मुक़दमा सदर थाना कांड संख्या 354/20 को वापस लेने सहित 6 सूत्री मांग पत्र को लेकर इंसाफ मंच के दरभंगा जिला कमिटी के नेतृत्व में आज दरभंगा पोलो मैदान के गेट से दरभंगा आईजी के समक्ष आक्रोशपूर्ण प्रदर्शन निकाला गया। प्रदर्शन का नेतृत्व इंसाफ मंच के प्रदेश उपाध्यक्ष नेयाज अहमद, भाकपा(माले) राज्य कमिटी सदस्य अभिषेक कुमार, भाकपा(माले) जिला स्थायी समिति सदस्य अशोक पासवान, भाकपा(माले) सिंहवाड़ा प्रखंड सचिव सुरेंद्र पासवान, मो0 इजाज अतहर” बबलू, रियाज खान कादरी, ऐपवा जिला सचिव शनिचरी देवी व रशीदा खातून ने किया। आईजी के समक्ष प्रदर्शन को देखते हुए लहेरियासराय टॉवर से लेकर कमिशनरी तक पुलिस फोर्स से भर दिया गया था। प्रदर्शनकारी पोलो मैदान के गेट के पास जुटकर वहीं से जुलूस की शक्ल में नारा लगाते हुए आई जी कार्यालय की ओर बढ़े तो लहेरियासराय पुलिस इंस्पेक्टर के नेतृत्व में पुलिस फोर्स ने प्रदर्शनकारियों को कमिशनरी से पहले ही तीनकोनवां के पास रोक दिया। प्रदर्शनकरियों की पुलिस से धक्का-मुक्की भी हुआ और पुलिस को पीछे हटना पड़ा। और कमिशनरी के पास ही प्रदर्शनकारी सड़क पर धरना पर बैठ गए। अरई-बिरदीपुर के पूर्व मुखिया प्रतिनिधि सुरेंद्र पासवान की अध्यक्षता में आयोजित सभा को सम्बोधित करते हुए भाकपा(माले) राज्य कमिटी सदस्य अभिषेक कुमार ने कहा कि जिला परिषद सदस्य रूमी का मामला हो या फिर छोटाईपट्टी पंचायत समिति सदस्य मो कैसर व मनीगाछी के मुखिया रियाजुद्दीन की हत्या का मामला हो सभी मामलों में पुलिस हाथ पर हाथ रख बैठी हुई हैं। अभियुक्तों को गिरफ्तार नहीं कर रहीं हैं। प्रदर्शन के माध्यम से आज पुलिस को अल्टीमेटम देने आये हैं कि हत्यारों को संरक्षण देना बंद करें औऱ जल्द गिरफ्तार करें।


इंसाफ मंच के प्रदेश उपाध्यक्ष नेयाज अहमद ने कहा कि जिला परिषद सदस्य जमाल अतहर रूमी की हत्या की उच्चस्तरीय जांच कराया जाना चाहिए और इस बात का भी जांच हो कि जब रूमी का कोविड 19 जांच नेगटिव था तो उनके परिवार के बगैर कैसे जेसीबी से रातों-रात कब्र खोदवाकर दफन कर दिया गया। इस तरह का जबर्दस्ती करने वाले पदाधिकारी पर भी कार्रवाई होना चाहिए। अगर जल्द कार्रवाई नहीं हुआ तो पीड़ित परिवार प्रशासन के समक्ष आमरण अनशन पर बैठने को बाध्य होंगे। भाकपा(माले) सदर प्रखंड सचिव अशोक पासवान ने कहा कि सदर प्रखंड में पंचायत समिति सदस्य मो कैशर की हत्या हो गई लेकिन हत्यारा की गिरफ्तारी में पुलिस फेल हैं। सभा को ऐपवा जिला सचिव शनिचरी देवी, रसीदा खातून, पंचायत समिति सदस्य मो अरशद अलि”मरगूब, वसी अहमद,भाकपा(माले) जिला कमिटी सदस्य धर्मेश यादव, राजा पासवान, आइसा नेता मयंक कुमार,गुलाब हाफीजी, मो. मेराज, आदि सभा को सम्बोधित किया। प्रदर्शनकारियों का इंसाफ मंच के प्रदेश उपाध्यक्ष नेयाज अहमद के नेतृत्व में 5 सदस्यीये प्रतिनिधि मंडल की मुलाकात मिथिला प्रक्षेत्र आईजी से सकारात्मक वार्ता हुई। उसके बाद प्रदर्शन समाप्त किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *