सड़क नहीं बनने से ग्रामीणों में अत्यधिक रोष और तनाव है। धोवगामा गांव के लोगो ने वोट बहिष्कार का निर्णय लिया है।

समस्तीपुर जिला अन्तर्गत समस्तीपुर लोकसभा और कल्याणपुर विधानसभा के अन्तर्गत पूसा प्रखंड के धोवगामा पंचायत के धोवगामा गांव में 17 वर्षों से जर्जर पड़ी सड़क नहीं बनने से ग्रामीणों में अत्यधिक रोष और तनाव है। धोवगामा गांव के लोगो ने वोट बहिष्कार का निर्णय लिया है धोवगामा पंचायत भवन से पश्चिम टोल की सड़क दो जिले को आपस में जोड़ने वाली ग्रामीण मुख्य सड़क विगत 17 वर्षों से जर्जर स्थिति में है, यह सड़क दर्जनों गांव तथा एनएच 28, दूबहा रेलवेे स्टेशन ढोली स्टेशन को आपस में जोड़ती है, इस सड़क के बन जाने से लगभग 12 किलोमीटर दूरी कम हो जाती है एनएच28 और ढोली स्टेशन जाने में, इस सड़क को लेकर 10 वर्षों से लगातार ग्रामीणों ने विभाग,जनप्रतिनिधि को शिकायत किया लेकिन परिणाम स्वरूप कुछ नहीं मिला,कहीं डांट तो कहीं फटकार पड़ी आवाज़ उठाने पे, इस सड़क को पूसा प्रखंड विकाश पदाधिकारी,स्थानीय विधायक सह मंत्री महेश्वर हजारी जी,सांसद प्रिंस राज,पूर्व सांसद स्वर्गीय रामचंद्र पासवान,बिहार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ये सभी संयुक्त रुप से सड़क को निरीक्षण कर चुके है और आश्वासन दिया गया कि जल्द से जल्द इस सड़क का पुनः निर्माण कराया जाएगा। लेकिन आज तक इस सड़क की दशा नहीं बदली और बिगड़ती ही रही। इस सड़क में दुर्घटना होना आम बात हो गई है साइकिल मोटरसाइकिल क्या पैदल चलने में भी अब इस सड़क पे डर लगता है, इस कारण समस्त धोवगाम ग्राम वासियों द्वारा वोट बहिष्कार का निर्णय लिया गया है और आगे हो सकता है तो इस सड़क को लेकर दूसरे गाव में भी मतदान नहीं होगा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *