बचपन बचाओ आंदोलन के कार्यकर्ताओं द्वारा चूड़ी कारखाने से बाल मजदूर मुक्त। Aazad News

22 अक्टूबर 2020: बृहस्पतिवार को बचपन बचाओ आंदोलन के सूचना पर सीतामढ़ी जिले के डुमरा प्रखण्ड के चकमंजिला गांव में चूड़ी कारखाने से एक बाल मजदूर को श्रम विभाग तथा धावा दल द्वारा मुक्त करवाया गया । जिसकी सूचना बचपन बचाओ आंदोलन के सीनियर प्रोजेक्ट कोऑर्डिनेटर राकेश कुमार ने दी थी जिसके तहत चूड़ी कारखाने मे 7 बच्चो के काम करने की सूचना थी पर टीम के वहा पहुचने से पहले ठेकेदार ने दूसरे सभी बच्चो को भगा दिया ।


मुक्त बच्चे को बाल गृह मे भेज दिया गया है कानूनी तथा उसके पुनर्वास की प्रक्रिया जारी है , इस मौके पर बचपन बचाओ आंदोलन के कार्यकर्ता मुकुंद चौधरी ने बताया कि पिछले 3 माह मे बचपन बचाओ आंदोलन ने बिहार से ट्रैफिकिंग द्वारा दूसरे शहरों मे मज़दूरी के लिए ले जा रहे सैकड़ों बच्चो को प्रशासन के साथ मिल कर मुक्त करवाया है। बृहस्पतिवार को कार्यवाही मे चक मंजिला गांव में नियोजक मोहम्मद साजिद अंसारी के यहां काम कर रहे बच्चा मोहम्मद तौसीफ को मुक्त कराने के समय धावा दल के सदस्य प्रदीप कुमार श्रम प्रवर्तन पदाधिकारी डुमरा , आदित्य कुमार चौधरी श्रम प्रवर्तन पदाधिकारी सोनबरसा, मनदीप कुमार श्रम प्रवर्तन पदाधिकारी रुन्नीसैदपुर, मुकुंद चौधरी कार्यकर्ता बचपन बचाओ आंदोलन एवं रोहित दत्त चाइल्ड लाइन के मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *